।। अनुभूतियों का अन्वेषक ।।


















प्रेम
अनुभूतियों का अन्वेषक है

प्रेम
अपने जीवन में
रचता है  नया जीवन

खोजता है
स्नेह-सृजन के नूतन स्रोत
प्रेमानुभूति का तरल-पथ
अभिव्यक्ति की नरम-खामोशी
अनुभूति का मौनानंद
अनकहा

पर भीतर ही भीतर
सब कुछ कहता हुआ
जिसे पहली बार सुनती है आत्मा
और समझ पाती है
सुख का अर्थ

जो
देह से उपजता है
देह से परे जाकर

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सूरीनाम में रहने वाले प्रवासियों की संघर्ष की गाथा है 'छिन्नमूल'

पुष्पिता अवस्थी को कोलकाता में ममता बनर्जी ने सम्मानित किया

।। सच ।।