गुरुवार, 4 अगस्त 2016

पुष्पिता अवस्थी की उपस्थिति के कारण अंतरराष्ट्रीय चीज़ महोत्सव का उद्घाटन कार्यक्रम हिंदी साहित्य संसार के लिए भी एक उल्लेखनीय अवसर बना

प्रख्यात हिंदी कवयित्री पुष्पिता अवस्थी की मौजूदगी ने 
उत्तरी हॉलैंड के प्राचीन शहर अलकमार के सिटी सेंटर में नहर के तट पर स्थित 
चीज़ संग्रहालय में आयोजित हुए ऐतिहासिक अंतरराष्ट्रीय चीज़ महोत्सव के 
उद्घाटन कार्यक्रम को एक अलग तरह की गरिमा व भावनात्मक संलग्नता प्रदान की । 
यह उद्घाटन कार्यक्रम के आयोजकों की व्यापक संवेदनशील सोच का भी 
सुबूत है कि उन्होंने एक व्यावसायिक पहचान वाले कार्यक्रम में 
एक लेखक - वह भी एक कवि की मौजूदगी को सुनिश्चित किया । 
हॉलैंड के महत्त्वपूर्ण लेखकों, गायकों, पेंटरों, अभिनेताओं, खिलाड़ियों व 
प्रशासनिक अधिकारियों की उपस्थिति में - 
अलकमार के मेयर पित ओखेन ब्राउन तथा उनकी पत्नी ऐली के नेतृत्व में 
हॉलैंड में भारत के राजदूत जेएस मुकुल द्धारा अपनी पत्नी मीता के साथ मिलकर 
उद्घाटित किया गया यह कार्यक्रम 
पुष्पिता अवस्थी की उपस्थिति के कारण 
हिंदी साहित्य संसार के लिए भी एक उल्लेखनीय अवसर बन गया । उल्लेखनीय है कि 'चीज़' ने हॉलैंड को दुनिया में एक विशेष पहचान दी हुई है । 
 पूरी दुनिया में हॉलैंड की चीज़ की अपनी अविस्मरणीय स्वाद अस्मिता है 
जिसे डच भाषा में 'कास' कहते हैं । अलकमार स्थित चीज़ संग्रहालय के 
सामने के विशाल प्रांगण में प्रत्येक वर्ष चीज़ का बाजार लगता है, 
जिसमें दुनिया भर के अनुभवी व पारखी लोग बोली लगा कर 
चीज़ का दाम तय करते हैं । यह चीज़ संग्रहालय 1597 से 1599 के बीच 
बनकर तैयार हुआ था, जिसमें चीज़ बनाये जाने के उपकरणों की 
ऐतिहासिक तस्वीरें और चीज़ निर्माण से जुड़े तमाम दस्तावेज़ हैं । 
यहाँ चीज़ पर बनी फ़िल्में और स्लाइड-शो देखने/दिखाने का भी प्रावधान है । 
प्रत्येक वर्ष यहाँ होने वाले चीज़ महोत्सव का इंतज़ार 
दुनिया के बड़े चीज़ निर्माताओं व कारोबारियों को होता है । इस वर्ष का चीज़ महोत्सव इसलिए और उल्लेखनीय बन गया 
क्योंकि इसमें पहली बार किसी कवि - 
और वह भी पुष्पिता अवस्थी जैसी प्रख्यात व प्रतिष्ठित हिंदी कवि की 
उपस्थिति में इस महोत्सव का उद्घाटन हुआ । 
कार्यक्रम के कुछेक दृश्य इन तस्वीरों में देखे जा सकते हैं :






कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें